राष्ट्रीय

नेता जागरूक, प्रभावशाली, साहसी, व्यावहारिक, सामाजिक, नैतिक, वफादार तथा अनुशासित होना चाहिए- डॉ एमपी सिंह

नेता जागरूक, प्रभावशाली, साहसी, व्यावहारिक, सामाजिक, नैतिक, वफादार तथा अनुशासित होना चाहिए- डॉ एमपी सिंह

 

अखिल भारतीय मानव कल्याण ट्रस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष व देश के सुप्रसिद्ध शिक्षाविद समाजशास्त्री दार्शनिक प्रोफ़ेसर एमपी सिंह ने नेता के गुणों को 51 सूत्रीय कार्यक्रम मैं समाहित किया है तथा बताया है कि नेता में कौन-कौन से गुण होने चाहिए और नेता कैसा होना चाहिए

1-नेता को अन्य लोगों के विचारों और भावनाओं की कद्र करनी चाहिए तथा अपनी अभिव्यक्ति लोगों को देखकर प्रकट करनी चाहिए दूसरों की आवश्यकताऔ के प्रति सचेत और जागरूक रहना चाहिए
 2-समाज के उत्थान और विकास के प्रति सजग रहना चाहिए 
3-बुराइयों को दूर करने के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए तथा हिंसा नहीं फैलानी चाहिए लोगों को नहीं भड़काना चाहिए
 4-चापलूसी से दूर रहना चाहिए
 5-सच्चाई को मानने के लिए तत्पर रहना चाहिए
 6-सही समय पर सही सलाह देने वाले विद्वानों का सम्मान करना चाहिए रोजगार परक तथा गुणवत्तापूर्ण शिक्षा पर अधिक बल देना चाहिए
 7-राजनेता को शारीरिक व मानसिक तौर पर स्वस्थ होना चाहिए तथा निशुल्क स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करानी चाहिए
 8-उ नेता को हर हाल में शांति व्यवस्था बनाए रखना चाहिए तथा उपद्रवियों को जेल भेजना चाहिए
9-शहर में कानून व्यवस्था को बनाए रखना चाहिए
 10-भ्रष्ट कर्मचारियों तथा अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करनी चाहिए 
11-अच्छे नेता को साहसी होना चाहिए ताकि सही समय पर सही फैसले लिए जा सके 
12-दब्बू और डरपोक किसम का नहीं होना चाहिए
 13-दबाव और प्रभाव में रहकर कार्य नहीं करना चाहिए
 14-नैतिक साहस  होना चाहिए 
15-नेता की व्यवहार कुशलता ही नेता को अच्छा बनाती है इसलिए नेता की अच्छी दूरगामी सोच होनी चाहिए 
16-नेतृत्व क्षमता व नेतृत्व गुण होने चाहिए
 17-बुद्धि और विवेक से काम लेना लेने वाला होना चाहिए
 18-प्रभावी बोलचाल के तरीके होने चाहिए
 19-अन्य लोगों का मान सम्मान करने वाला होना चाहिए
 20-बहन बेटियों का सम्मान करने वाला होना चाहिए
 21-जाति और धर्म की राजनीति से ऊपर होना चाहिए 
22-मतभेद की नीति को नहीं अपनाना चाहिए
 23-पहनावा सामाजिक और मर्यादित होना चाहिए
 24-नेता विस्तृत सोच वाला होना चाहिए ताकि लोगों के दृष्टिकोण को समझ सके 
25-समस्याओं का निदान करने वाला होना चाहिए
 26-परेशानियों को दूर करने वाला होना चाहिए
 27-विश्वास जीतने वाला होना चाहिए
 28-अपने ऊपर भरोसा और विश्वास होना चाहिए
 29-नेता को समस्याओं से दूर नहीं भागना चाहिए बल्कि उनका डटकर मुकाबला करना चाहिए
 30-सभी सामाजिक लोगों को साथ लेकर चलना चाहिए तथा आपस में सब के साथ बैठकर सलाह मशवरा करना चाहिए
 31-नेता को वफादार होना चाहिए
 32-अपनी नैतिकता को कभी नहीं भूलना चाहिए
 33-वफादारी से अपना कर्तव्य निभाना चाहिए
 34-नेता को राष्ट्रहित और जनहित में फैसले करने चाहिए 
35-संविधान का ज्ञान होना चाहिए
 36-नेता न्याय प्रिय तथा लोकप्रिय होना चाहिए 
37-नेता नशे का आदि नहीं होना चाहिए 
38-नेता सुनने व समझने वाला होना चाहिए
39-नेता को अपनी विधानसभा तथा लोकसभा का पूरा ज्ञान होना चाहिए
 40-नेता की अपनी नीति होनी चाहिए
 41-नेता का अपना कोई सिद्धांत होना चाहिए
 42-नेता को बदले की भावना से कार्य नहीं करना चाहिए
 43-नेता को क्राइम पर रोक लगानी चाहिए तथा सरकारी जमीन पर कब्जा करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई अतिशीघ्र होनी चाहिए
 44-पब्लिक के लिए ऐसी नीति बनानी चाहिए ताकि गरीब से गरीब असहाय से असहाय भी अपने कार्य को आसानी से करा सके
 45-बार-बार सरकारी दफ्तरों के चक्कर ना लगाने पड़े
 46-नेता को बेकार के मामलों में अपने समय को बर्बाद नहीं करना चाहिए तथा क्रिमिनल को अपने साथ नहीं रखना चाहिए और अपने ऑफिस पर भी नहीं बिठाना चाहिए
 47-नेता को दूरदर्शिता के आधार पर फैसले लेने चाहिए
 48--रिश्वत के लेनदेन पर पूर्ण प्रतिबंध करना चाहिए 49-नेता को दुनिया भर की हाजिरी लगाने की जरूरत नहीं है 
50-नेता को अपनी जिम्मेदारी समर्पण के साथ निभानी चाहिए तथा भाई भतीजे बाद से दूर रहना चाहिए
51-ऑफिस में आने जाने वालों का मान सम्मान करना चाहिए तथा उनके प्रार्थना पत्रों पर तुरंत सुनवाई होनी चाहिए
उक्त विचार डॉ एमपी सिंह के अपने स्वतंत्र विचार हैं कौन कितना सहमत है और कौन नहीं तात्पर्य इस बात से नहीं है बल्कि इस बात से है की देश की समृद्धि तथा प्रजा का भला कैसे हो सकता है यदि आप मेरी बातों से सहमत हैं तो इस आर्टिकल को जन जन तक पहुंचाने में मेरी मदद करें धन्यवाद

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email