विशेष रिपोर्ट

जातिवाद एक कलंक आखिर हुई इंसानियत की जीत, बटाइकेला के युवकों के हौसले को सलाम

जातिवाद एक कलंक आखिर हुई इंसानियत की जीत, बटाइकेला के युवकों के हौसले को सलाम

क़ादिर रज़वी

जशपुर/कांसाबेल : किसी को गीता में ज्ञान ना मिला, किसी को कुरान में ईमान ना मिला, उस बन्दे को आसमान में रब क्या मिलेगा जिसे इंसान में इंसान ना मिला.
        आपको मानवता में विश्वास नही खोना चाहिए. मानवता एक समंदर है; अगर समुंद्र की कुछ बूँदें गन्दी है तो समुन्द्र गंदा नहीं बन जाता.
 इंसान तो हर घर में पैदा होते हैं, परन्तु इंसानियत कुछ ही घरों में जन्म लेती हैं.

           दरअसल मामला जसपुर जिले कांसाबेल ब्लॉक ग्राम बटाइकेला की है एक वृद्ध अमरूद राम 65 वर्ष की मृतु 9 मई को हो गयी अमरूद राम को सामाजिक बहिस्कृत किया गया था जिस वजह से समाज के लोगो ने उसका अंतिम संस्कार करने के लिए आगे नही आये ऐसे में 10 मई की दोपहर तक मृतक का अंतिम संस्कार नही हो सका था.

            इस बात को जानकर ग्राम के चार युवकों ने अंतिम संस्कार का बीड़ा उठाया है और इंसानियत का परिचय देते हुवे रवि पांडे,आशीष  कुंज,विजय प्रजापति, विवेक पटेल ने कोरोना संक्रमण को देखते हुवे पी पी ई किट पहनकर शव का अंतिम संस्कार किया.

           इस चार युवकों ने जाती धर्म से ऊपर उठकर इंसानियत का धर्म अपनाकर एक साहस का काम किया है।सरपंच बटाइकेला और तहसीलदार कांसाबेल को पीपीई किट एवं अन्य कर्म सामग्री की माग की और इन्हें ये सब मुहैया किया गया जिसका आभार व्यक्त किया है और फिर एक बार इंसानियत की जीत हुई.
 यह भयावह रूप से स्पष्ट हो चूका है कि हमारी तकनीक हमारी मानवता की सीमायें पार कर चुकी हैं.

 एक इन्सान होने का जो सबसे बड़ा फायदा हमे है वह है मानवता के कल्याण के लिए हमेशा कर्म करते जाना.  इंसान का सच्चे अर्थों में इंसान होना ही मानवता हैं. 

इंसानियत के धर्म के कायदे से ही एक व्यक्ति दुसरे से प्रेम करता हैं. इंसान वही बेहतर है जो अपने में खुश रहता हो लेकिन वो नहीं जो सिर्फ अपने बारे में सोचता है।जब आप किसी गरीब इन्सान की किसी भी तरह से हेल्प करते है 

तब आप मानवता के हित के लिए काम कर रहे है जिससे पूरे समाज में एक अच्छा मेसेज जाता है भले ही आज हमारा विश्व तेजी से आगे बढ़ रहा हैं मगर हम अपना मानवीय धर्म मानवता को निरंतर पीछे छोड़े जा रहे हैं.

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email