विश्व

दर्जनों लडकियों से यौन शोषण कर वीडियो बनाकर बेचने वाले पति-पत्नी हुए गिरफ्तार

दर्जनों लडकियों से यौन शोषण कर वीडियो बनाकर बेचने वाले पति-पत्नी हुए गिरफ्तार

मीडिया रिपोर्ट 

पाक : एक युवक पर कई दर्जन लड़कियों से यौन शोषण और रेप करने का आरोप लगा है. युवक की पत्नी भी अपराध में शामिल रहती थी. ये मामला पाकिस्तान के रावलपिंडी का है. रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी कासिम जहांगीर ने 45 लड़कियों के साथ यौन शोषण की बात कबूल ली है.  पुलिस ने आरोपी कासिम जहांगीर और उसकी पत्नी किरण महमूद को गिरफ्तार कर लिया है. कपल लड़कियों के यौन शोषण के दौरान फोटोज और वीडियो बना लेते थे. अश्लील फोटो-वीडियो को एडल्ट साइट पर बेच दिया जाता था. 

tribune.com.pk की रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी कपल ने कम से कम 10 पीड़ितों के वीडियो बनाने की बात स्वीकार की है. स्थानीय पुलिस अफसर मोहम्मद फैसल राणा ने कहा है कि अल्लामा इकबाल ओपन यूनिवर्सिटी की एक एमएससी की छात्रा की ओर से शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की है. 

एमएससी में पढ़ने वाली शादीशुदा छात्रा ने शिकायत में कहा था कि उसे जॉर्डन कॉलेज के बाहर से किडनैप कर लिया गया. चाकू दिखाकर धमकाया गया और छात्रा को आरोपियों के घर लाया गया. उसके साथ कासिम ने रेप किया. किरण ने इस दौरान वीडियो बना लिए. बाद में पीड़ित छात्रा को वीडियो और फोटो दिखाकर ब्लैकमेल किया गया और रात में ही छोड़ दिया गया. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी ने स्वीकार किया है कि वह 8 से 12 साल की लड़कियों के साथ भी अपराध को अंजाम देता था. 

आरोपियों के घर से पुलिस ने लड़कियों के आपत्तिजनक वीडियो और फोटोज बरामद कर लिए हैं. पुलिस अधिकारी ने बताया कि कपल ने वीडियो और फोटोज एक इंटरनेशनल पोर्न वेबसाइट को बेच दिए थे. किरण को जहां न्यायिक हिरासत में अदिआला जेल भेज दिया गया, वहीं कासिम को पुलिस रिमांड में रखा गया. पुलिस अधिकारी ने कपल से जुड़ी घटनाओं के लिए अलग-अलग मामले दर्ज करने के आदेश दिए हैं.

पुलिस ने कहा है कि लैपटॉप, हार्डडिस्क, 2 मोबाइल फोन जब्त करके फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है. बेड शीट्स, टिश्यू पेपर और अन्य कागजात भी डीएनए जांच के लिए दिए गए हैं.
पुलिस के मुताबिक, कपल के इन अपराधों को अंजाम देने के पीछे दो मकसद थे- ब्लैकमेल करके पीड़ित लड़कियों के परिवारों से पैसे ऐंठना और इंटरनेशनल सेक्स ट्रेडर्स को वीडियो सप्लाई करना.कपल पीड़ित लड़कियों को धमकी देते थे कि अगर उन्होंने किसी से घटना के बारे में बात की तो उनके पूरे परिवार को मार दिया जाएगा. वहीं, ज्यादातर मामलों में पीड़ित के घर वाले शिकायत के लिए तैयार नहीं होते थे.

पाकिस्तान में नाबालिग के साथ रेप के मामलों में फांसी या आजीवन कारावास की सजा का प्रावधान है. जबकि किडनैप करने पर 7 साल तक की सजा हो सकती है. 
वहीं, इस मामले में एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस इस केस पर चौबीसों घंटे काम कर रही है. इंटरनेशनल सेक्स ट्रेड से जुड़े मामलों की तह तक जांच की जाएगी.  वहीं, रावलपिंडी के एक इंटरनल सिक्योरिटी एक्सपर्ट इसरार अहमद राजा ने कहा है कि कसुर में जैनब की हत्या के बाद यह मामला हाल का सबसे बड़ा सेक्स स्कैंडल है. उन्होंने संदेह जताया है कि संदिग्ध के यौन शोषण की शिकार लड़कियों की संख्या 150 तक हो सकती है. 

राजा का कहना है कि चूंकि पुलिस के पास एडवांस ट्रेनिंग, नई तकनीक नहीं है, जांच अधिकारियों के लिए ऐसे मामलों को साबित करना कई बार कठिन होता है. ऐसे में संदिग्ध के कोर्ट से छूटने का खतरा बना रहता है.  वहीं, इस मामले में एक डेवलपमेंट ये भी है कि शिकायतकर्ता महिला ने रावलपिंडी के डीएसपी से मिलकर जांच अधिकारी को बदलने की मांग की. पुलिस ने उनका अनुरोध स्वीकार भी कर लिया. शिकायतकर्ता ने कहा था कि जांच अधिकारी आरोपी कपल को निर्दोष मान रहा था.

 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email